Saturday, December 15, 2018
दुनिया

super blue moon mark in sky on January 31

वाशिंगटन: पिछली बार नीला चांद यानी ब्लू सुपरमून का दीदार नहीं कर पाने वालों लिए इसे देखने का दूसरा मौका आने वाला है. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के मुताबिक इस महीने के आखिर में 31 जनवरी को एक बार फिर नीला चांद यानी सुपर ब्लू मून दिखेगा. इससे पहले तीन दिसंबर 2017 और एक जनवरी 2018 को काफी नजदीक से नीला चांद दिखा था और सुपरमून की झलक की इस तिकड़ी में शायद यह इस साल आखिरी मौका होगा.

क्या है सूपरमून?
सुपरमून एक आकाशीय घटना है जिसमें चांद अपनी कक्षा में धरती के सबसे निकट होता है और संपूर्ण चांद का स्पष्ट रूप से अवलोकन किया जा सकता है. 31 जनवरी को होने वाली पूर्णिमा की तीन खासियत है. पहली यह कि यह सुपरमून की एक श्रंखला में तीसरा अवसर है जब चांद धरती के निकटतम दूरी पर होगा. दूसरी यह कि इस दिन चांद सामान्य से 14 फीसदा ज्यादा चमकीला दिखेगा. तीसरी बात यह कि एक ही महीने में दो बार पूर्णिमा होगी, ऐसी घटना आमतौर पर ढाई साल बाद होती है.
सूपर ब्लू मून धरती की छाया से गुजरेगी और प्रेक्षकों को पूर्ण चंद्रग्रहण दिखेगा. नासा के प्रोग्राम एग्जिक्यूटिव व लूनर ब्लागर गॉर्डन ने नासा की ओर से जारी एक बयान में कहा कि चांद जब धरती की छाया में रहेगा तो इसकी आभा रक्तिम हो जाएगी जिसे रक्तिम चंद्र या लाल चांद कहते हैं.

धरती के इन हिस्सों में रहेगा चंद्रग्रहण
पूरे उत्तरी अमेरिका, प्रशांत क्षेत्र से लेकर पूर्वी एशिया में इस दिन पूर्ण चंद्रग्रहण दिखेगा. अमेरिका, अलास्का, हवाई द्वीप के लोग 31 जनवरी को सूर्योदय से पहले चंद्र ग्रहण देख पाएंगे जबकि मध्य पूर्व के देश समेत एशिया, रूस के पूर्वी भाग, आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में सुपर ब्लू ब्लडमून 31 जनवरी को सुबह चंद्रोदय के दौरान लोग देख पाएंगे. दिसंबर में हुई पूर्णमासी के चांद को कोल्ड मून कहा जाता है और 2017 में यह पहला सुपरमून था जिसका लोगों ने दीदार किया. चांद का आकार सामान्य से सात फीसदी बड़ा लग रहा था और यह सामान्य से 15 फीसदी ज्यादा चमकीला था.

0 725

Zeelandiya is 8th continent scientists found in Australia

नई दिल्ली।

धरती पर जल्द आठवां महाद्वीप अस्तित्व में आ सकता है। भूवैज्ञानिकों की राय अगर मानी गई तो नया महाद्वीप होगा। उन्होंने इसकी पहचान ऑस्ट्रेलिया के पूर्व में दक्षिण पश्चिम प्रशांत महासागर के 40.9 लाख वर्ग किलोमीटर लंबे पानी में डूबे हुए क्षेत्र के रूप में की है। इसके तटीय क्षेत्रों में अरबों-खरबों डॉलर के जीवाश्म ईंधन मिलने की संभावना जताई गई है।

इसे भारतीय उपमहाद्वीप के बराबर बताया जा रहा है। शोधकर्ताओं के अनुसार, भारत के गोंडवाना क्षेत्र का पांच फीसद हिस्सा भी कभी इस संभावित महाद्वीप का हिस्सा रह चुका है। अगर इसे मान्यता मिलती है तो यह एशिया, यूरोप, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और अंटार्कटिका के बाद आठवां महाद्वीप होगा। 94 प्रतिशत समुद्र में डूबे में न्यूजीलैंड और फ्रांस नियंत्रित क्षेत्र न्यू कैलेडोनिया को भी शामिल बताया जा रहा है। न्यूजीलैंड की विक्टोरिया यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के शोधकर्ताओं सहित 11 भूवैज्ञानिकों ने ‘ : अर्थ हिडेन कॉन्टीनेंट’ शीर्षक से जारी शोध पत्र में दावा किया है कि में महाद्वीप होने की सभी चार महत्वपूर्ण खूबियां मौजूद हैं।

शोधकर्ताओं के अनुसार, यह कोई अचानक की गई खोज नहीं है बल्कि लगातर चिंतन का नतीजा है। नाम सबसे पहले भूभौतिकी वैज्ञानिक ब्रूस ल्यूनेडाइक ने 1995 में इस्तेमाल किया था। हाल में उपग्रह तकनीक और समुद्र तल के ग्रेविटी मैप में इस बात की पुष्टि हो गई कि यह एकीकृत क्षेत्र है। इसी आधार पर वैज्ञानिकों ने इसे महाद्वीप घोषित करने की मांग उठाई है।

अध्ययन में कहा गया है कि का 94 फीसद हिस्सा जो पानी में डूबा हुआ है, दरअसल लाखों वर्ष पूर्व ऑस्ट्रेलिया से ही टूटकर समुद्र में समाहित हो गया था। जीएसए टुडे में प्रकाशित रिपोर्ट में शोधकर्ताओं का कहना है कि की पहचान बहुत हद तक एक भूवैज्ञानिक महाद्वीप के रूप में की जानी चाहिए। इससे महाद्वीपीय दरार, उसके पतलापन और विघटन की प्रक्रिया को समझने में आसानी होगी।’

0 243

Donald trump comparing America from russia

वाशिंगटन । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के शासन और अमेरिका को समान बताते हुए कहा कि अमेरिका की गलतियों के कारण दुनियाभर में अनेक लोग मारे गए हैं। ट्रंप के इस बयान की उनके विरोधियों ने कड़ी आलोचना की है। ट्रंप ने कहा कि हमने क्या किया है, इस पर भी नजर डालिए। हमने कई गलतियां की हैं।

मैं शुरुआत से इराक में युद्ध के खिलाफ रहा हूं। रूस के राष्ट्रपति को हत्यारा कहे जाने पर अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा कि कई गलतियां की गई हैं। कई लोग मारे गए हैं। मेरा भरोसा कीजिए, आसपास बहुत से हत्यारे हैं। ट्रंप ने कहा कि कई हत्यारे हंै। हमारे यहां कई हत्यारे हैं। आपको क्या लगता है कि हमारा देश इतना निर्दोष है? उन्होंने कहा कि वह आईएसआईएस के खिलाफ लड़ाई में रूस का सहयोग करना चाहेंगे। ट्रंप ने कहा कि वह पुतिन का सम्मान करते हैं लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि वह साथ-साथ ही चलेंगे। उन्होंने कहा कि मैं कई लोगों का सम्मान करता हूं लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि मैं उनके साथ बिल्कुल मिलकर चलूंगा। वह अपने देश का नेतृत्व कर रहे हैं। मैं कहता हूं कि रूस के साथ मिलकर काम नहीं करने से बेहतर है कि उसके साथ मिलकर काम किया जाए, खासकर यदि रूस आईएसआईएस और दुनियाभर में इस्लामी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमारी मदद करता है, जो एक बड़ी लड़ाई है।

ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा कि क्या मैं उनके पुतिन साथ मिलकर काम करूंगा? मैं अभी इस बारे में नहीं जानता। राजनीतिक विरोधियों ने ट्रंप की इन टिप्पणियों का विरोध किया है। सीनेट की विदेश मामलों की समिति के रैंकिंग सदस्य सीनेटर बेन कार्डिन ने कहा कि एक निरंकुश, हत्यारे शासन को हमारे देश के समान बताना अपमानजनक है, भले ही यह काम ट्रंप ने ही क्यों ना किया हो। अमेरिका में सभी चयनित अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि वे राष्ट्रपति की खतरनाक बयानबाजी के खिलाफ बोलें। कार्डिन ने कहा कि ट्रंप ने अमेरिका को व्लादिमीर पुतिन और उनके हत्यारे शासन के समान बताकर यह स्पष्ट कर दिया कि वह इस बात में विश्वास नहीं करते कि अमेरिका असाधारण एवं अन्य देशों से अलग है।

सदन में डेमोक्रेटिक नेता नैंसी पेलोसी ने भी रूस के प्रति नरम रुख रखने के लिए ट्रंप की आलोचना की। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि हमें रूस के साथ उनके वित्तीय, निजी एवं राजनीतिक संबंधों को लेकर एफबीआई से जांच करानी चाहिए। हम उनकी कर विवरणी देखना चाहते हैं ताकि हमें पुतिन के साथ उनके संबंधों की सच्चाई पता चल सके, जिनकी वह सराहना करते हैं।

0 566
सउदी अरब में हज के दौरान मची भीषण भगदड़ में मरने वाले भारतीयों की संख्या अब तक  बढकर 18 हो गई है। पिछले 25 वर्षों में हज के दौरान हुई यह  सबसे बड़ी  भीषण त्रासदी में कुल 717 लोग मारे गए हैं।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कल बताया, की 18  भारतीय हज यात्रियों के मारे जाने की अब तक पुष्टि हो चुकी है । भगदड़ में मारे गए 18  भारतीयों में से नौ गुजरात के, तीन तमिलनाडु के, एक तेलंगाना का और एक केरल का निवासी थे । चार और भारतीयों  की पहचान अभी तक  नहीं हो पाई है।
त्रासदी में घायल हुए 700  से अधिक लोगों में कम से कम13 भारतीय हैं। मुस्लिम जायरीन ने कल गमगीन माहौल में अंतिम रस्म अदा की। सउदी अरब के शाह सलमान ने सुरक्षा समीक्षा और हज संगठन के पुनरीक्षण के आदेश दिए  है।
सउदी अरब के क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वी ईरान ने उसके खिलाफ आलोचना का नेतत्व करते हुए विश्व में लोगों के सबसे बड़े सालाना आयोजन में अपने 131  नागरिकों के मारे जाने पर नाराजगी जाहिर की है और कहा है कि रियाद समारोह का प्रबंधन अच्छे से करने में सक्षम नहीं है।

0 371

नई दिल्ली। गूगल के CEO सुंदर पिचई ने कहा है कि भारत लंबे समय से प्रौद्योगिकी कंपनियों के लिए प्रतिभा का एक्सपोर्टर रहा है लेकिन इस समय खुद के बदलाव के दौर से गुजर रहा है जिससे देश की 1.2 अरब आबादी को काफी ज्यादा फायदा होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सिलिकॉन वैली में स्वागत करते हुए भारतीय मूल के सीईओ ने कहा कि गूगल के सभी कर्मचारियों और भारतीय समुदाय में उनकी यात्रा को लेकर काफी उत्साहित है।

उन्होंने यूट्यूब वीडियो में कहा, ‘भारत और सिलिकॉन वैली के बीच मजबूत संबंध है। भारत लंबे समय से टेक्नोलॉजी कंपनियों के लिए प्रतिभाओं का निर्यातक रहा है। आईआईटी और अन्य संस्थानों से स्नातक करने वाले भारतीयों द्वारा निर्मित उत्पादों ने विश्व में क्रांति लाने में मदद की है। लेकिन अब भारत अपने क्रांतिकारी दौर से गुजर रहा है।ज् उन्होंने आगे कहा कि बहुत से लोग पहली बार ऑनलाइन होंगे। विशेष तौर पर वे जो ग्रामीण क्षेत्र में हैं और हिंदी के साथ -साथ अन्य भारतीय भाषाएं बोलते हैं जिससे देश में सबको लाभ होगा।

पिचई ने कहा कि इससे लड़कियों को नया कौशल सीखने और सफल करियर, अगली पीढ़ी की प्रभावी शिक्षा प्राप्त करने और हर प्रकार के कारोबार के लिए नए ग्राहक ढूंढने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा, च्हम यहां सैन जोस के सैप सेंटर और जब आप गूगल में आएंगे तब आपकी प्रतिक्रिया सुनने का इंतजार कर रहे हैं… हमें उम्मीद है कि आपकी यात्रा से लोग सिलिकॉन वैली में उत्साहित होंगे, देश भर के भारतीय उत्साहित होंगे और हमारी भागीदारी को नया जोश तथा मजबूती मिलेगी।ज्

मोदी अपनी अगली यात्रा के दौरान फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग से मुलाकात करेंगे और २७ सितंबर को कैलिफोर्निया में कंपनी के मुख्यालय में सत्र को संबोधित करेंगे। वह ऐपल के सीईओ टिम कुक और इलेक्ट्रिक कार निर्माता टेस्ला के मुख्य कार्यकारी एलोन मस्क से भी मिल सकते हैं।

0 329

सऊदी अरब में हज यात्रा के दौरान भगदड़ से करीब २०० लोगों की मौत हो गई, जबकि करीब 400 लोग घायल हो गए। हज यात्रा का आज आखिरी दिन था।

मक्का में शैतान को पत्थर मारने के दौरान भगदड़ मच गई, हज यात्री तीन बार शैतान को पत्थर मारते हैं। जिससे इतने लोगों की मौत हो गई। इस घटना में किसी भारतीय के मरने या घायल होने की अभी कोई खबर नही है।

सऊदी अरब में आज ईद भी मनाई जा रही है। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही मक्का में ही क्रेन गिरने से 107 लोगों की मौत हो गई थी।

0 422

डबलिन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आयरलैंड पहुँचते ही वहां के प्रधानमंत्री एंडा केनी ने गर्मजोशी से स्वागत किया। एंडा केनी के ऑफिस पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विजिटर्स बुक में साइन भी किया। आयरलैंड के प्रधानमंत्री ने पीएम को आइरिश क्रिकेट टीम की जर्सी गिफ्ट की। जिस पर पीएम मोदी का नाम लिखा हुआ है। उन्होंने पीएम मोदी को एक बैट और बॉल भी तोहफे में दिया। पीएम मोदी ने भी आयरिश प्रधानमंत्री को तोहफे दिए।

मोदी दो देशों की यात्रा के पहले पड़ाव के तहत बुधवार को आयरलैंड पहुंचे। डबलिन एयरपोर्ट से मोदी सीधे होटल के लिए रवाना हो गए। यहां लोगों में मोदी के लिए जबरदस्त क्रेज नजर आया और उनके साथ सेल्फी खिंचवाने की हो़ड़ लग गई। मोदी ने आयरलैंड के प्रधानमंत्री एंडा केनी के साथ चर्चा की। वह यात्रा के दूसरे पड़ाव के तहत बुधवार शाम को न्यूयॉर्क के लिए रवाना होगे । प्रधानमंत्री 29 सितंबर तक अमेरिका दौरे पर रहेंगे।

मोदी आयरलैंड में करीब 5 घंटे रुकेंगे और फिर यहां से अमेरिका रवाना हो जाएंगे। आयरलैंड में मोदी का पहला जो कार्यक्रम है, उसके तहत आयरलैंड के प्रधानमंत्री एंडा केनी से उनकी मुलाकात है। दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच आर्थिक मसलों पर बातचीत होगी कि किस प्रकार दोनों देश मिलजुलकर कुछ क्षेत्रों में आगे कदम बढ़ा पाएं।

0 766

फ्रैकफर्ट। जर्मनी की प्रमुख कार निर्माता कंपनी फॉक्सवैगन ने मंगलवार को अपनी गलती मानते हुए कहा कि उसने दुनियाभर में 1 करोड़ 10 लाख डीजल कारों की प्रदूषण जांच में गड़बड़ी कराई थी। कंपनी ने स्वीकार किया कि हमने कार में ऎसा साफ्टवेयर लगाया था जो प्रदूषण परीक्षणों को चकमा दे सकता है। फॉक्सवैगन यूएस के सीईओ माइकल हॉर्न ने कहा, हमारी कंपनी ने अमरीकी एन्वायर्नमेंटल प्रोटेक्शन एजेंसी, कैलिफोर्निया एयर रिर्सोसेज बोर्ड और आप सभी के साथ बेईमानी की। इस नई घोषणा से कंपनी के शेयरों में तत्काल 20 प्रतिशत तक की और गिरावट आई।
5 लाख गाड़ियां वापस
सच सामने आने बाद अमरीकी अधिकारियों ने फॉक्सवैगन कंपनी को कहा कि वो अमरीका से अपनी ५ लाख गाडियां वापस बुलाए। वहीं, जर्मन कारमेकर के मुताबिक, दुनिया भर के 1 करोड़ 10 लाख इंजन के बेंच टेस्ट रिजल्ट और रोड पर इस्तेमाल के दौरान के नतीजों में काफी अंतर मिला। कंपनी ने यह पहली बार माना है कि अमरीका से बाहर बेची गई डीजल कारों में भी धांधली करने वाला सॉफ्टवेयर पड़ा हुआ है। इससे पहले, कंपनी ने माना था कि इस समस्या से सिर्फ अमरीका की 5 लाख कारें ही प्रभावित हैं। कंपनी ने कहा कि वह इस समस्या वाली कारों की सर्विस के लिए 7.3 बिलियन डॉलर (करीब 46 हजार करोड़) की रकम का इंतजाम अलग से किया है।
ऎसे की धोखाधड़ी
सॉफ्टवेयर लगाकर टेस्टिंग में इमिशन कंट्रोल किया। यूएस एन्वायर्नमेंटल प्रोटेक्शन एजेंसी (ईपीए) ने कहा कि इमिशन टेस्टिंग के लिए फॉक्सवैगन ने एक अलग डिवाइस बना रखी थी। यानी जब कभी फॉक्सवैगन की कारें इमिशन टेस्टिंग के लिए जाती थीं तो यह डिवाइस पॉल्यूशन को कंट्रोल कर लेती थी। इसके बाद जब भी यह कार नॉर्मल ड्राइविंग सिचुएशंस की टेस्टिंग पर जाती थी तो इमिशन कंट्रोल का सॉफ्टवेयर अपने आप बंद हो जाता था। सॉफ्टवेयर ऎसा था जो टॉर्क को कंट्रोल कर एवरेज और कार का ओवरऑल परफॉर्मेंस बढ़ा देता था। वहीं, कार्बन इमिशन को घटा हुआ बताता था।

0 295

नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ संयुक्त राष्ट्र महासभा के सालाना सम्मेलन से इतर 28 सितंबर को एक शांतिरक्षण शिखर सम्मेलन को संबोधित करेंगे। अधिकारियों ने कहा कि इस कार्यक्रम के दौरान दोनों प्रधानमंत्रियों की ‘मुलाकात की संभावना’ से इनकार नहीं किया जा सकता।

अधिकारियों ने फिलहाल ‘विस्तारित बैठक’ की संभावना के बारे में कुछ नहीं कहा। सूत्रों के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र महासभा के सालाना सम्मेलन के दौरान मोदी-शरीफ वाल्डोर्फ एस्टोरिया होटल में ठहरेंगे। इन मामलों से जुड़े एक अफसर ने कहा, वे कुछ गपशप कर सकते हैं या आमने-सामने हो सकते हैं या हाथ मिला सकते हैं और कुछ विचारों का आदान प्रदान कर सकते हैं।

द्विपक्षीय मुलाकात को लेकर अभी कोई घोषणा नहीं हुई है। नरेंद्र मोदी बुधवार को आयरलैंड और अमेरिका की यात्रा के लिए रवाना हुए हैं। पहले पड़ाव में वह आयरलैंड के डबलिन जाएंगे

0 457

वाशिंगटन। दक्षिण अमरीकी देश चिली में आए जबरदस्त भूकंप के बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई है। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 8.3मापी गई है। अम रीकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के अनुसार चिली के समुद्र तट पर भूकंप के जबरदस्त झटके महसूस किए गए जिससे राजधानी सेनटियागो में इमारतों को नुकसान पहुंचा है। इसका केंद्र जमीन से 25 किलोमीटर की गहराई में था।

चिली प्रशासन के अनुसार समुद्र में 15 फीट ऊंची लहरें उठी, जिससे सड़कों पर पानी आ गया। आपदा के चलते पांच लोगों की मौत हो गई है। भूकंप के कुछ देर बाद ऑफ्टर शॉक भी महसूस किए गए।

भूकंप के बाद चिली तथा पेरू में सुनामी की चेतावनी जारी की गई है तथा इस इलाके को खाली करने के लिए कहा गया। पैसेफिक सूनामी वॉर्निग सेंटर ने चेतावनी दी है कि भूकंप की वजह से अगले कुछ घंटों में चिली तथा पेरू तट पर विनाशकारी सुनामी लहरें पैदा हो सकती हैं। इसके अलावा हवाई में भी सुनामी की चेतावनी जारी की गई है। उन्होंने बताया कि किसी प्रकार के जानमाल के नुकसान की तत्काल सूचना नहीं है।

भूकंप के झटके पड़ोसी देश अर्जेटीना के कुछ शहरों में भी महसूस किए गए। चिली सबसे ज्यादा भूकंप प्रभावित देशों में आता है। यहां पिछले कुछ सालों में कई विनाशकारी भूकंप आ चुके हैं। फरवरी 2010 में आए भूकंप में 500 लोगों की मौत हो गई थी

Free Arcade Games by Critic.net