स्वस्थ होकर दिल्ली लौटे केजरीवाल

स्वस्थ होकर दिल्ली लौटे केजरीवाल

दस दिन की प्राकृतिक चिकित्सा के बाद पुरानी खांसी व मधुमेह से निजात पाकर भले चंगे हुुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी पहुंच गए। केजरीवाल ऐसे वक्त में कामकाज से दूर थे, जब उनकी आम आदमी पार्टी दिल्ली में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने के बाद भारी अंतर्कलह से जूझ रही थी। उधर पार्टी के राजनीतिक मामलों की समिति से निकाले गए प्रशांत भूषण ने केजरीवाल की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाते हुए उनसे मिलने का समय मांगा है। वहीं आप ने सोमवार को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पूर्व विधायक राजेश गर्ग को निलंबित कर दिया। बंेगलुरु के जिंदल नेचर केयर से छुट्टी पाए आप संयोजक केजरीवाल ने कहा कि उनकी खांसी चली गई व शर्करा नियंत्रण में है। वह पांच मार्च को जिंदल नेचर केयर में अपने माता-पिता के साथ इलाज कराने गए थे। उन्होंने ट्वीट किया कि खांसी खत्म, शर्करा स्तर नियंत्रण में। तरोताजा और चंगा महसूस कर रहा हूं। वहीं आप का एक धड़ा योगेंद्र व प्रशांत को पार्टी से निकालने की मुहिम में लगा है। इसके लिए विधायकों के बीच हस्ताक्षर अभियान तक चल चुका है। प्रशांत भूषण ने कहा कि यदि केजरीवाल तैयार हो जाते हैं वह यादव के साथ उनसे मुलाकात कर सकते हैं। भूषण ने कहा मैंने कहा है कि मैं उनसे जल्द से जल्द मिलना चाहता हूं ताकि हम मिल बैठकर उत्पन्न इन समस्याओं को सुलझाने का प्रयास करें। यादव के नजदीकी सूत्रों ने बताया कि यह संदेश सुबह में दोनों नेताओं की ओर से भेजा गया था। दूसरी ओर गर्ग द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर पिछले साल सरकार बनाने के लिए छह कांग्रेसी विधायकों को तोड़ने का प्रयास करने का आरोप लगाने और बार-बार पार्टी के खिलाफ काम करने के कारण पार्टी ने उन्हें निलंबित करने का निर्णय लिया।