लेखपाल भर्ती परीक्षा हुई संपन्न

लेखपाल भर्ती परीक्षा हुई संपन्न

0 122

लखनऊ। लेखपाल भर्ती परीक्षा देने आए परीक्षार्थियों की दोनों शिफ्ट की परीक्षा खत्म हो गई है। राजधानी के १143 केंद्र पर हुई परीक्षा के बाद छात्रों ने प्रश्न पत्र को आसान बताते हुए अब मेरिट ऊपर जाने की आशंका जताई। पहली शिफ्ट सुबह 10.30 बजे से 12 बजे तक थी जिसमें करीबन 83 हजार 179 परीक्षार्थी शामिल हुए। दूसरी पाली की परीक्षा तीन बजे से 4.30 बजे तक थी, जिसमें तकरीबन 83 हजार 178 परीक्षार्थी शामिल हुए।
जीके आसान, हिंदी में उलझे

परीक्षा देकर निकल रहे कई छात्रों ने बताया कि जनरल नॉलेज के सवाल काफी आसान आए थे। पेपर में देश से संबंधित सभी सवाल आसान थे। हालांकि, हिंदी के सवालों ने थोड़ा परेशान किया। खासतौर से इंग्लिश मीडियम के छात्रों को हिंदी ग्रामर के सावालों ने थोड़ा जरूर चौंकाया। परीक्षा में हिंदी, गणित, सामान्‍य ज्ञान और ग्रामीण विकास के चार खंड में 100 सवाल आए।

परीक्षा देकर लौटे रहे परीक्षार्थी ब्रहमशंकर ने बताया कि पेपर तो आसान था लेकिन हिंदी की व्याकरण थोड़ी टफ लगी। अब मेरिट में नाम आना मुश्किल लग रहा है क्योंकि मेरिट काफी हाई जाएगी।

रोल नंबर लिखने में हुई परेशानी
परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी रोल नंबर को शब्‍दों में लिखने को लेकर परेशान रहे। परीक्षार्थियों के मुताबिक उन्हें जो ओएमआर शीट मिली उसके सीक्‍वेंस नंबर में नौ बॉक्‍स की जगह आठ बॉक्‍स ही बने थे। जब इस पर अफसरों ने आयोग से बात की तो पहले एप्‍लीकेशन में एक बॉक्स जोड़ने को कहा गया।

सेंटर बदले जाने से परेशान हुए अभ्यर्थी
लेखपाल भर्ती परीक्षा के लिए रविवार को राजधानी में प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए गए, वहीं सैकड़ों छात्रों को सेंटर बदल जाने की समस्या के चलते काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लेखपाल की परीक्षा के लिए आवेदन किए परीक्षार्थी ठाकुरगंज निवासी अतुल कुमार ने बताया कि प्रवेश पत्र के मुताबिक उनका सेंटर सिसेंडी गया था, पर वहां जाने के बाद पता चला कि सेंटर राजकीय कॉलेज में। ऐसी ही समस्याओं से आलमबाग निवासी अनुज पांडेय, रोशनी यादव समेत तमाम परीक्षार्थियों को गुजरना पड़ा।

डीएम ने किया निरीक्षण
डीएम राजशेखर ने शहर के कई स्कूलों व कॉलेज में जाकर निरिक्षण किया। वे रजत गर्ल्स कॉलेज(शक्ति नगर), राजकीय इंटर कॉलेज (निशातगंज) समेत कई स्कूल व कॉलेज गए और वहां के कॉर्डिनेट्र्स से बातचीत की। हालांकि पेपर आउट होने को लेकर दिनभर अफवाएं चलती रहीं।

कंट्रोल रूम पहुंचे शिवपाल
प्रदेश के कैबिनेट मिनिस्टर शिवपाल सिंह यादव ने कंट्रोल रूम पहुंचकर लेखपाल एंट्रेंस एग्जाम का जायजा लिया