बाजार नौ सप्ताह के निचले स्तर पर

बाजार नौ सप्ताह के निचले स्तर पर

0 161

बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स ने अंतिम एक घंटे मंे चले बिकवाली के सिलसिले से शुरुआती लाभ गंवा दिया और यह 30 अंक के नुकसान के साथ नौ सप्ताह के निचले स्तर पर बंद हुआ। लगातार पांचवंे दिन सेंसेक्स मंे गिरावट का सिलसिला जारी रहा। पूंजी के सतत प्रवाह व एशियाई विकास बैंक (एडीबी) द्वारा भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर की चमकदार तस्वीर पेश किए जाने के बीच बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरांे वाला संेसेक्स एक समय 263 अंक चढ़कर 28,455.32 अंक के उच्चस्तर तक गया था। हालांकि कारोबार के अंतिम घंटे मंे वाहन, बैंकिंग व आईटी शेयरांे मंंे बिकवाली से बाजार मंे गिरावट आई और अंत मंे यह 30.30 अंक या 0.11 प्रतिशत के नुकसान से 28,161.72 अंक पर बंद हुआ जो इसका नौ सप्ताह का निचला स्तर है। कारोबार के दौरान एक समय यह 28,130.09 अंक के निचले स्तर तक गया। पांच सत्रांे मंे सेंसेक्स 574.66 अंक का नुकसान दर्ज कर चुका है। इसी तरह नेशनल स्टाक एक्सचंेज का निफ्टी 7.95 अंक या 0.09 अंक के नुकसान से 8,542.95 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 8,535.85 से 8,627.75 अंक के दायरे मंे रहा। पांच सत्रांे मंे निफ्टी मंे 180 अंक की गिरावट आई है। शेयर ब्रोकरांे ने कहा कि मार्च माह के डेरिवेटिव अनुबंधांे के निपटान से पहले कारोबारी धारणा प्रभावित हुई। संेसेक्स की कंपनियांे मंे टाटा मोटर्स, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक, हिंद यूनिलीवर व हीरो मोटोकार्प मंे नुकसान रहा। टाटा मोटर्स के निदेशक मंडल की कल की बैठक से पहले कंपनी का शेयर 3.27 प्रतिशत टूट गया।सेंसेक्स की कंपनियांे मंे सबसे ज्यादा नुकसान मंे टाटा मोटर्स का शेयर ही रहा। निदेशक मंडल की बैठक मंे कंपनी के राइट इश्यू पर विचार होना है। हालांकि, एचडीएफसी, भारती एयरटेल, सन फार्मा, रिलायंस इंडस्ट्रीज, डॉ रेड्डीज लैब तथा विप्रो मंे लाभ से बाजार की गिरावट कुछ सीमित रही। इस बीच अस्थाई आंकड़ांे के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकांे ने कल शुद्ध रूप से 417.41 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकांे ने 403.91 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। एशियाई बाजारांे मंे मिलाजुला रूख रहा। हांगकांग, जापान तथा ताइवान के बाजारांे मंे 0.21 से 0.39 प्रतिशत की गिरावट आई। वहीं चीन, दक्षिण कोरिया व सिंगापुर के बाजार 0.09 से 0.23 प्रतिशत के लाभ के साथ बंद हुए। शुरुआती कारोबार मंे यूरोपीय बाजार नीचे चल रहे थे।

निफ्टी 7.95 अंक टूट कर 8,542.95 पर बंद हुआ मार्च माह के डेरिवेटिव अनुबंधांे के निपटान से पहले कारोबारी धारणा प्रभावित हुई