फ्लॉप हुआ स्वच्छ भारत अभियान

फ्लॉप हुआ स्वच्छ भारत अभियान

0 136

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान के बारे में लोगों का कहना है कि यह फ्लॉप हो चुका है। एक ऑनलाइन सर्वे के अनुसार ७१ प्रतिशत लोगों ने इसे फ्लॉप करार दिया है। शहरों में रहने वाले लोगों का कहना है कि पिछले एक साल में खास सफाई नहीं हुई है। प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले साल दो अक्टूबर को गांधी जयंती पर इसकी शुरूआत की थी।

सर्वे में तीन लाख से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। लोगों का मानना है कि सफाई अभियान को जमीनी स्तर पर सुधारने की जरूरत है। इसके लिए लोगों और अधिकारियों को मिलकर काम करना चाहिए। इसमें नागरिकों की भी सहभागिता भी जरूरी है। शहरों में नगर निकायों, कूड़ा जमा करने, ले जाने और इसे ठिकाने लगाने वालों के बीच समन्वय का अभाव है। 14 फीसदी लोगों ने कहाकि नगर निकायों को अपनी प्रक्रिया और संसाधनों में सुधार लाने की जरूरत है।

सरकार के ताजा आंकड़ों के अनुसार जुलाई में शहरों में रोजाना 1.42 लाख टन कूड़ा निकला और इसमें केवल 15.33 फीसदी ही निस्तारित हुआ। सर्वे में शामिल तीन चौथाई लोगों का कहना था कि पिछले एक साल में शौचालयों की संख्या में इजाफा नहीं हुआ। पोल के दौरान लोगों ने कहाकि स्मार्ट सिटी के चयन के लिए स्वच्छता अभियान को पैमाना बनाया जाना चाहिए था।